शनिवार, अक्टूबर 19, 2019
Home > भाषण के अंश > हिन्दू राष्ट्र कहलाने से क्या भारत धर्मशासित राष्ट्र बन जायेगा ?

हिन्दू राष्ट्र कहलाने से क्या भारत धर्मशासित राष्ट्र बन जायेगा ?

हमे कैसा संविधान बनाना चाहिए इसका उत्तर स्पष्ट है I जो हमारे धर्म, हमारी संस्कृति, हमारे देश, हमारे समाज की रक्षा करे I यह हिन्दू धर्म, इसके शास्त्र महान हैं, इसका ज्ञान महान हैं I आज भी उपयोगी है I लेकिन आप demographic change को देख करके आसानी से समझ सकते है, कि यह इस लिए ज़िंदा रहा हैं, क्युकी यह एक हिन्दू समाज था I अगर वह हिन्दू समाज नहीं रहेगा तो यह ज्ञान, यह धर्म मिट जायेगा I यह लाहौर, मुल्तान, कश्मीर के उदहारण से समझ सकते हैं I यह पूरे देश में होगा I

इसलिए यह प्रश्न बिलकुल स्पष्ट हैं कि संविधान ऐसा होना चाहिए जो इस देश का संविधान जो इस देश के धर्म की रक्षा करे, इस समाज की रक्षा करे, उसके परंपरा की रक्षा करे I यदि यह हिन्दू राष्ट्र बन गया तो theocratic state बन जायेगा ? Theocratic state यह शब्दावली ही उनसे जुडी हुई हैं जो abrahmic religion से जुड़ेहुए लोग है I जहाँ पर वह theology तय करती हैं, law क्या होगा? भारत तो हमेशा से हिन्दू देश था I यहाँ हमेश से ईसाई और मुस्लिम थे I उन्हें कोई समस्या नहीं हुई थी I बल्कि उन्होंने ही शासन किया I

जब मुसलामानों ने सदियों शासन किया वे अल्पसंख्यक ही थे I जब उनकी सत्ता ख़तमभी हो गयी शिवाजी  के बाद , जब छोटे-छोटे रजवाड़ेपूरे देशभर में उन्होंने शासन अपने हाथ में ले लिए I यह गलत धरना है कि अंग्रेज़ों ने मुग़लोंको हराया था I अंग्रेज़ों के आने से पहले मुग़लोंको पराजित किया जा चूका था I और लगभग आधी से अधिक हिंदुस्तान, लगभग पूरा हिंदुस्तान कुछ pockets को छोड़कर,वह मुग़लोंसे या मुसलामानों से स्वतंत्र हो चूका था I तो क्या उस समय मुसलमानों की स्तिथि ख़राब थी ?

क्या वह theocratic state था ? बिलकुल नहीं I हिन्दू समाज, हिन्दू राष्ट्र का चरित्र ही अपने आप में उदारवादी रहा है I और उसमे सभी लोग रहे है और यह शिकायत किसी को नहीं रही है, दुनिया में किसी इतिहास में कहीं नहीं मिलता कि यहाँ पर विश्वास के आधार पर, धर्म विश्वास के आधार पर किसी को persecute किया गया हो I कम से कम state की तरफ से I

Leave a Reply

%d bloggers like this: