Author: tatvamase

प्राचीन अतीत में यूनानियों ने भारतीय गणित के ज्ञान को उधार लिया था

  मैं हिप्पर्खस और त्रिकोणमिति के बारे में बात करना चाहूंगा इससे पहले कि सूर्य सिद्धांत में तार सारणियां हैं आर्यभट्ट बना है, यहां पर केवल एक ‘टी’ होना चाहिए, मैं माफ़ी माँगता हूँ,...

पश्चिमीयों के द्वारा भारतीय ज्ञान का अनुग्रहण

  मैं आपको इस ज्ञान को प्रसारित करने के बारे में मध्ययुगीन यूरोप के बारे में बात करना चाहता हूं। टोलेडो में, अगर आपको याद है कि एक ईसाई स्पेन और मुस्लिम स्पेन था।...

पाइथागोरस और भारतीय ज्ञान के साथ उनका संबंध

  पाइथागोरस जो इस समय के फ्रेम में रहते थे, ये सज्जन, जो सभी पश्चिमी, अल्बर्ट बुर्की और ए एन। मार्लो और जी आर एस मीड हैं, उनमें से प्रत्येक का कहना है कि...

ब्रिटिश आक्रमणकारियों ने भारत को कैसे लूट लिया – विल ड्यूरेंट का ‘द केस फॉर इंडिया’

  हम यह जानना चाहते हैं कि भारत में गरीबी का क्या कारण है? मैं 2 कार्यों को इंगित करना चाहूंगा, यह एंगस मैडिसन है जो नीदरलैंड्स में एक ऐतिहासिक अर्थशास्त्री है। उन्होंने वर्तमान...

कीलडी और अरिकमेडू खुदाई से संकेत मिलता है कि दक्षिण भारतीय सभ्यता ५०० ईसा पूर्व से भी पुराना है

  हाल ही में हमें कीलडीकी कहानी के बारे में बताया गया है। कीलडीके पीछे एक रोमांचक कहानी मिली है। पुरातत्वविदों को मदुरै में खुदाई करना था हालांकि, मदुरै अन्य भारतीय शहरों की तरह...

Mr. K. K. MUHAMMED, Ex Regional Director, ASI speaks on Ayodhya Ram Mandir

Source video : – Public 24/7 YouTube channel.   To the Program में आज हमारे मेहमान है दुनिया के जाने माने archaeologist , जनाब के. के. मोहम्मद साहब| के.के. साहब का जन्म कोज्हिकोड़े में...

मोदी और मुसलमान । जैन मुनि की हिन्दुओ को चेतवानी सम्भल जाओ वरना

Source: – V Click YouTube Channel   वन्दे मातरम I जय माँ भारती I हिन्दू वादी मित्रों को मेरा ह्रदय से आशीर्वाद I चुनाव का मामला, माहोल सामने आने वाला हैं I लोक सभा का...

गुमराह करने वाले इतिहासकार

Courtesy: – K K Muhammad (Ex-Regional Director, ASI). अयोध्या के स्वामित्व के संबंध में 1990 में राष्ट्रीय स्तर पर बहस ने जोर पकड़ा। इसके पहले 1976- 77 में पुरातात्विक अध्ययन के दौरान अयोध्या उत्खनन में...

अर्थनैतिक दक्षिणपंथियों के क्रियाकर्म किस प्रकार से राष्ट्रविरोधी हैं?

  अब दूसरी बात यह है की अर्थनैतिक रूप से दक्षिणपंथी लोग भी राष्ट्रविरोधी है। मैं मानता हूँ कि उदारवादी अर्थशास्त्र सतत विकास का विरोधी है। मुझे लगता है कि अयन रैंड जिन चीज़ों...

राष्ट्र की भूमिकाएं क्या हैं और राष्ट्र को अपने नागरिकों को पूर्ण स्वतंत्रता क्यों नहीं देनी चाहिए

  हम यह मानते है कि स्वतंत्रता, आज़ादी और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पूर्ण रूप से महत्वपूर्ण है। हम यह भी कहते हैं कि पूर्ण स्वतंत्रता और पूर्ण आज़ादी अराजकता के सिवा और कुछ नहीं...

एक सच्ची, शुद्ध और अच्छी जाति व्यवस्था कभी थी ही नहीं

  दक्षिणपंथी विचारों में एक और समस्या यह भी है की यदि यहाँ आप एक बहुत ही महत्वपूर्ण विषय पर चर्चा करते ही नहीं हैं, वह विषय है जातिप्रथा | दक्षिणपंथी मंडलियों में जाति...

सावरकर मानते थे कि एक राष्ट्र का उदय एक आधुनिक औद्योगिक समाज में ही संभव है

  अभी मैं जिस विषय पे चर्चा करूँगा वह है,दक्षिणपंथियों में एक बड़ा दोष यहहै कि हम कहां से आयेवहभूल गए हैं | सावरकर की सोच, जो मेरे हिसाब से दक्षिणपंथियों में एक व्यवस्थित...

भारत में वामपंथी और दक्षिणपंथियो का विकास

जब ब्रिटिश आए, उन्होंने कुछ शुरू किया था। उन्होंने भारत का व्यवस्थित रूप से अध्ययन करना शुरू किया | उन्होंने भारत का एक व्यवस्थित अध्ययन शुरू किया था, जिसे हम सभी भारततत्त्व या इंडोलोजी...

आखिर ‘रुढ़िवादी’ शब्द का तात्पर्य क्या है?

जब हम खुद को रूढ़िवादी कहते हैं तो वास्तव में उसका क्या तात्पर्य है? मेरा मानना है की हम इससे चार चीज़ें दर्शाते है | सबसे पहले कि हम तथ्यों और आंकड़ों के आधार...