Home > इस्लामी आक्रमण

गुरु गोबिंद सिंह: योद्धा, संत, कवि व दार्शनिक – जिन्होंने भारत के सारे ग्रंथों का निचोड़ दिया | कपिल कपूर

https://www.youtube.com/watch?v=OMTKIHlEuk0 गुरु गोविन्द सिंह जी के mention के बगैर आप इंडिया की history of ideas कंप्लीट नहीं कर सकते| गुरु गोविंद सिंह जी ने भागवत पुराण को ‘भाखा दियो बनाए’, जो उन्होंने कृष्णावतार लिखा वह उन्होंने पूरे भागवत पुराण को पंजाबी में भाखा में लिखा, रामअवतार लिखा, अकाल स्तुति लिखी, जितना

Read More

इस्लामी आक्रमण और हिन्दू प्रतिरोध – राजीव सिंह का व्याख्यान

श्री राजीव सिंह बताएंगे कि मुहम्मद बिन क़ासिम से लेकर अब तक हैम ने हिन्दुतान का एक बड़ा भाग कैसे खोया और आधुनिक युग में उसे कैसे पुनः प्राप्त कर सकते हैं। https://www.youtube.com/watch?v=ApNvrBTka9c

Read More

मालाबार में हिंदुओं के नरसंहार में गांधी की भूमिका। सन्दीप बालकृष्ण

https://www.youtube.com/watch?v=cYR4_uIaWGw?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 मुहम्मद अली जौहर या मुहम्मद अली अपने बड़े भाई शौकत अली जौहर या शौकत अली के साथ द अली ब्रदर्स के नाम से जाने जाते है । अली ब्रदर्स ने सामने से खिलाफत आंदोलन की योजना बनाई, नेतृत्व किया और निष्पादित किया। अब मुहम्मद अली कोई साधारण आदमी नहीं थे

Read More

मृदोस का कवच: खिलाफत आंदोलन की उत्पत्ति | सन्दीप बालकृष्ण

https://www.youtube.com/watch?time_continue=6&v=_N5vQDhzHS0?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 1918 में, जब विनाशकारी प्रथम विश्व युद्ध समाप्त हो रहा था, सबसे महत्वपूर्ण मील के पत्थर में से एक जो अंत को चिह्नित करता था, वह कुछ ऐसा था जिसे मृदोस के आर्मिस्टिस कहा जाता है।  30 अक्टूबर, 1918 को मुर्मोस के आर्मिस्टिस पर हस्ताक्षर किए गए थे। मुद्रोस वास्तव

Read More

खलीफत आंदोलन और महात्मा गाँधी – शंकर शरण का व्याख्यान

खलीफत आंदोलन (1919-21) भारत में महात्मा गाँधी का पहला और सब से बड़ा राजनीतिक अभियान था। कांग्रेस नेतृत्व, मुस्लिम राजनीति, हिन्दू-मुस्लिम संबंध और भारत के भविष्य के लिए उस के बड़े गहरे और दूरगामी परिणाम हुए। उस घटना की शताब्दी के अवसर पर उस के सबक पर विचार करना जरूरी

Read More

जिहाद और मुस्लिम धर्मविधान पर डॉक्टर बी.आर. अम्बेडकर के विचार

https://youtu.be/q6Ne9WtypyQ?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 एक मुस्लिम की अपनी मातृभूमि [भारत] के प्रति निष्ठा पर, अंबेडकर लिखते हैं: "नोटिस के लिए बुलाने वाले सिद्धांतों में इस्लाम का सिद्धांत है, जो कहता है कि ऐसे देश में जो मुस्लिम शासन के अधीन नहीं है, जहां भी मुस्लिम कानून और भूमि के कानून के बीच संघर्ष होता

Read More

अंबेडकर की इस्लामिक समझ

https://www.youtube.com/watch?v=PBoVNta9oSo?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 हालाँकि, हम यह नहीं जानते किवे दुनिया के अन्य महान धर्मों जैसे इस्लाम के बारे में क्या सोचते थे। क्योंकि अम्बेडकर का यह पहलू हमारे सामान्य प्रवचन और पाठ्य पुस्तकों से छिपा हुआ है, इसलिए यह सर्वाधिकआश्चर्य की बात हो सकती है कि अम्बेडकर ने इस्लाम के बारे में अक्सर

Read More

पलानी बाबा का उपदेश – भाग 2

Source: - Hindupost.in Read First Part Here. आईएसआईएस और अल-कायदा के इस युग में मुसलमानों के कट्टरपंथीकरण की प्रक्रिया और तरीकों के बारे में बहुत कुछ लिखा गया है। बुद्धिजीवी और राजनेता समान रूप से, खनिज तेल से वित्त पोषित सऊदी वहाबी विचारधारा को इसके लिए दोषी ठहरा रहे हैं जो आधुनिक

Read More

गुरु तेग बहादुर का धर्मार्थ प्राण त्यागने से पहले औरंगजेब के साथ संवाद

https://www.youtube.com/watch?v=DBFIiqysBIY?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 गुरुदेव बोले, "300 वर्ष पहले हमारे देश में औरंगजेब नाम का निर्दयी राजा था। उसने अपने भाई को मारा, पिता को बंदी बनाया और स्वयं राजा बन गया। उसके उपरांत उसने निश्चय किया कि वो भारत को इस्लामिक राष्ट्र बनाएगा।" "क्यों गुरुदेव?" "क्योंकि उसने सोचा कि यदि दूसरे देशों को इस्लामिक राष्ट्र

Read More