Home > भारतीय संस्कृति

शंकराचार्य के बारे में जानना आवश्यक क्यों है ?

https://www.youtube.com/watch?v=rBySaPAfiJg&t=39s?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 भगवान् शंकराचार्य को जानना अवतार परंपरा को जानना है, सनातन धर्म की I भगवान् शंकराचार्य को जानना , unity in diversity को जानना है I  भगवान् शंकराचार्य को जानना national integration को जानना है, भगवान् शंकराचार्य को जानना social reform को जानना है, समाज सुधार को जानना है I भगवान्

Read More

तृतीय वर्ष के समापन समारोह में मोहन भगवत जी का संबोधन

https://www.youtube.com/watch?v=Xsdg1pnM9ag   इस वर्ग को देखने, संघ को समझने अपना समय खर्चा करके, अपना वय करते  हुए, हमारे ऊपर स्नेह रखकर यहाँ उपस्थित हुए सभी माननीय अतिथि गण, उपस्तिथ नागरिक सज्जन, माता-भगिनी, मंच पर उपस्तिथ माननीय सर्वाधिकारी जी, विदर्भा प्रांत के और नागपुर महानगर के माननीय संघचालक जी एवं, आत्मीय स्वयं सेवक

Read More

नालंदा विश्वविद्यालय के बारें में चीनी विद्यार्थियों की राय

https://www.youtube.com/watch?v=x_DdHPQqPpY?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1   मैंने उस जगह की यात्रा की हैं, लेकिन उसको जानने के लिए, या फिर यह जानने के लिए की वह कैसे दिखता था, आपको हुआन सांग और आय सिंग की आत्मा कथा पढ़नी होगी, तो हुआन सांग लिखते हैं कि वह सबसे सुन्दर परिसर था I उसके चारों और बहुत

Read More

भारत से चीन को ज्ञान का अंतरण

https://www.youtube.com/watch?v=8OCO41T_lHM?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1   अब हम बात करेंगे भारत से चीन के ज्ञानान्तरण के बारे में I संस्कृत भाषा में लिखित कई सारे हस्तलेख चीन ले जाए गए, चीनी विद्वानों के द्वारा या फिर भारतीय विद्वानों द्वारा जिन्हें चीनी राजाओं ने इस कार्य के लिए नियुक्त किया था I कुछ समय पहले हमने बत

Read More

प्राचीन भारत में तर्क की कला

https://www.youtube.com/watch?v=tHu6EM_fu98?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1   अब हम बात करतें हैं तर्क कि, जो भारतीय शिक्षा प्रणाली का अभिन्न अंग हुआ करता था I आप इस चित्र को देख सकतें हैं आदि शंकराचार्य की जो तर्क कर रहें हैं मंदाना मिश्र के साथ, और इस तर्क का पंच कौन हैं ? उभय भारती जो एक जानी-मानी

Read More

कीलडी और अरिकमेडू खुदाई से संकेत मिलता है कि दक्षिण भारतीय सभ्यता ५०० ईसा पूर्व से भी पुराना है

https://www.youtube.com/watch?v=I9B7Vfq16W4?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1   हाल ही में हमें कीलडीकी कहानी के बारे में बताया गया है। कीलडीके पीछे एक रोमांचक कहानी मिली है। पुरातत्वविदों को मदुरै में खुदाई करना था हालांकि, मदुरै अन्य भारतीय शहरों की तरह ही है; बसे हुए, बहुत महंगा जमीन, पुरातत्व और इन जैसे चीज़ोंके लिए भूमि प्राप्त करने के

Read More

हिन्दू धरम में ऋतूस्राव के देवता कौन हैं ?

अब ऐसी पद्धाथियाँ एक सकारात्मक बोध कराती हैं और उसपर यह कि हिन्दू मानतें हैं कि उनकी देवी भी रजस्वला होती हैं और उत्सव मनाएं जातें हैं उनके सम्मान में I एक त्यौहार हैं कामाख्या, आसाम का प्रसिद्द उत्सव I तो यह कामाख्या का उत्सव, शायद उसे अम्बुबाची कहतें हैं,

Read More

रजस्वला परिचर्या – आयुर्वेद के अनुसार ऋतुस्राव के समय क्या करना चाहिए और क्या नहीं

आयुर्वेद कई नुस्खे देता हैं कि ऋतुस्राव के समय क्या करना चाहिए और क्या नहीं जिसे रजस्वला परिचर्या I परिचर्या अर्थात् जीवन शैली I रजस्वला स्त्री को उन तीन दिनों में किस प्रकार की जीवन शैली अपनानी चाहिए ? चरका संहिता इसका सार देती हैं और कहती हैं कि, ऋतुस्राव के

Read More

त्रिदोष की धारणा – आयुर्वेदिक औचित्य और तत्व ऋतुस्राव की पद्धति में

वस्तुतः जो ऋतुस्राव की क्रिया का अनुभव करतें हैं वोह शायद भूल गएँ हैं कि ऋतुस्राव की क्रिया में एक आयुर्वेदिक औचित्य, आयुर्वेदिक तत्व भी हैं जिसके बारें में वेदों, धर्मशास्त्रों में बताया गया हैं I आयुर्वेद ऋतुस्राव को एक दैहिक प्रक्रिया मानता हैं जो त्रिदोषों के अधीन हैं I

Read More

जन्म का महात्म्य और हिन्दू धर्मं में गर्भपात को ब्रह्म्हाया क्यों माना गया हैं ?

https://www.youtube.com/watch?v=dO434gqkEt0?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 जन्म इतना महतवपूर्ण क्यों हैं? हमारे हिन्दू सम्प्रदाय में जन्म देना एक पवित्र बात मानी गयी हैं, बहुत बड़े पुण्य की बात, एक धार्मिक क्रिया जिसका पुण्य बहुत महान हैं, क्यों ? क्योकि जन्म देना सिर्फ बच्चे पैदा करना नहीं हैं, जो आजकल की भाषा में माना गया हैं I

Read More

हिन्दू धर्म और राष्ट्रीयता – शंकर शरण द्वारा एक व्याख्यान

https://www.youtube.com/watch?v=48EdyW4E9i0&t=267s   समय बदल गया है, समय की मांग बदल गयी है,और जो नयी पीढ़ी आती है वह स्वयं सबकुछ तय नहीं करती; बहुत सी चीजे उसको बनी-बनायीं मिलती है | यह जो कैरियर ओरिएंटेडनेस का आज कासमय है, उसमेपढ़ना-लिखनाएक तरह से कम हो गया है|सबकुछ रेडीमेड, जल्दी, गूगल से मिल जाये,

Read More

ओडिया – पूर्वी हिंदमहासागर में भारतीय नौसेना के अग्रगामी

https://www.youtube.com/watch?v=wITcjJm0iHg?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 अब कहीं न कहीं ओडिया ने महसूस किया कि, समुद्री तट के किनारे से सटकर जलयात्रा करना जटिल हैं और शायद जिसने ऐसी यात्रा कभी की हो, ने यह सुझाव रखा होगा कि दक्षिणपूर्वी एशिया के तट से सटकर यात्रा करने के बजाए, आसान होगा अगर, शरद ऋतू की मौसमी

Read More

कंबोडिया और वियतनाम के खमेर और चरमे संस्कृतियों का भारत से सम्बन्ध

https://www.youtube.com/watch?v=Wx_i-4xI-UY?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 तो एक कहानी हैं जो सामूहिक रूप से काम्बोसिया और वियतनाम आदि देशों के अभिलेखों में देखि जाती हैं, और इसके बहुत समय बाद अंकोर और चरमे साम्राज्य उभरे, मगर वोह कहानी कुछ इस प्रकार हैं – एक भारतीय ब्राह्मण था जिसका नाम कौडिन्य था जो समुद्री यात्रा कर रहा

Read More

रोहिंग्याओं समर्थकों के कृत्रिम तर्क और भारत एक राष्ट्र के रूप में

https://www.youtube.com/watch?v=-0bqgeIgRtg&t=1s?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 अब, उससे पहले एक बात है जिस पर हमें ध्यान देना चाहिये । हम एक राष्ट्र-राज्य में रहते हैं । यदि हम एक राष्ट्र राज्य में रहते हैं, राष्ट्र राज्य के सिद्धान्त के साथ कुछ अनुमान और पूर्वानुमान भी आते हैं, जिसका अर्थ ये है कि मैं अपनी सीमाओं की

Read More

वर्ण, वेद व आधुनिक समाज — मोहित भारद्वाज द्वारा एक व्याख्यान

क्या हम स्वतंत्र हैं या पाश्चात्य संस्कृति से प्रभावित विश्व में जकड़ें हुए हैं ? क्या हमनें पूर्वजों की शिक्षा, भाषा और नैतिक मूल्यों को भुला दिया हैं? हम अपनी जड़ों से भटक गए हैं । हमें वापस लौटना हैं और 'वैदिक भारत' को पुनर्जीवित करना हैं। इस व्याख्यान में आपको

Read More

‘संस्कृतम् : आत्मा की भाषा’ — सम्पदानंदा मिश्रा द्वारा एक भाषण

https://www.youtube.com/watch?v=40uaJAGj3bc&t=1049s ओ३म् जीवने यावदा दानम् , स्यात् प्रदानं ततोधिकम् इत्येषा प्रार्थनास्माकं भगवन् परिपूर्यताम् , भगवन् परिपूर्यताम् त्वमेव माता च पिता त्वमेव , त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव त्वमेव विद्या द्रविणं त्वमेव , त्वमेव सर्वं मम देव देव सर्वे भवन्तु सुखिनः , सर्वे सन्तु निरामयाः सर्वे भद्राणि पश्यन्तु , मा कश्चिद् दुःखभाग्भवेत् ओं शान्तिश्शान्तिश्शान्तिः सर्वेभ्यो नमो नमः   आप सबको नमस्कार मुझे ये बोला

Read More

शक्ति और क्षमा (रामधारी सिंह)

Credits: - रामधारी सिंह क्षमा, दया, तप, त्याग, मनोबल सबका लिया सहारा पर नर व्याघ्र सुयोधन तुमसे कहो, कहाँ, कब हारा? क्षमाशील हो रिपु-समक्ष तुम हुये विनत जितना ही दुष्ट कौरवों ने तुमको कायर समझा उतना ही। अत्याचार सहन करने का कुफल यही होता है पौरुष का आतंक मनुज कोमल होकर खोता है। क्षमा शोभती उस भुजंग को जिसके पास गरल हो उसको क्या जो दंतहीन विषरहित,

Read More

परिदृश्य का बदलना और बाढ़ मिथक

https://www.youtube.com/watch?v=hNkoOx2upGU&t=28s?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 अभी हिंद महासागर का लैड्सस्पेक्स को हम निपटने के लिए जा रहे हैं,  एक चीज़ जो इसके बारे में याद रखती है,  कि यह  एक जीवित लैड्सस्पेक्स है,  यह मृत लैड्सस्पेक्स नहीं है, तटरेखाएं लगातार बदल रही हैं टेक्टोनिक और बढ़ते और स्थानांतरण शोरलाइन के कारण   और यह याद

Read More

प्रारंभिक कलारूपों में रामायण का चित्रण

https://www.youtube.com/watch?v=mK01SiZTmN0&t=1s?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 तो, अब हमें बहुत जल्दी कला पर चित्रित रामायण के दृश्य मिलते हैं। रामायण की पहली कला चित्रण दूसरी शताब्दी ईसा पूर्व का एक टेराकोटा है। यह दिखाता है कि रावण ने सीता को ले जाने और सीता को अपने गहने फेंकने के लिए दिखाया है, उम्मीद करते हुए कि

Read More

रामायण पर प्रख्यात हस्तियों की राय

https://www.youtube.com/watch?v=KN7x5VidkIs&t=15s?cc_lang_pref=hi&cc_load_policy=1 अब, भारतीय सभ्यता में रामायण के महत्व को कई धार्मिक नेताओं, जन विचारकों द्वारा उम्र के आधार पर, और रामायण क्या है पर जोर दिया गया है? यह नैतिकता का एक मैनुअल है; यह सही आचरण और सही मूल्यों में लोगों को निर्देश देना है यह एक राष्ट्रीय कोड है

Read More

भारतीय इतिहास क्या वास्तव में सत्य है ?

https://www.youtube.com/watch?v=78jB3PrvUhg इस विषय का जन्म तब हुआ जब मैं अक्सर लोगों से, विशेषत: पढ़े लिखे लोगों से यह सुनता हूँ  कि, भारतीय किसी भी तरह से इतिहासिक लोग नहीं हैं। ऐसा क्यों है की, हम दुनिया के अद्वितीय लोगों में से हैं,  क्यों कि, – हम  हमारे अतीत के बारे में बिलकुल

Read More