Tagged: हिन्दी

भगवान् शंकराचार्य का अवतरण काल

  पूरे facts और evidences के आधार पे हमारे पास तथ्य, प्रमाण, साक्ष और आंकड़े हैं जो यह बतातें हैं कि भगवन शंकराचार्य का अवतरण इसवी सन से ५०७ वर्ष पूर्व सिद्ध होता हैं...

भगवान् शंकराचार्य की उपलब्धियां

छोटी सी आयु थी उनकी, जब घर छोड़ा था आठ वर्ष के थे वो I संन्यास के लिए निकले जब I नौ वर्ष की आयु में उन्होंने संन्यास लिया और उसके बाद में, भगवान्...

Life Journey of Adi Shankaracharya and the Time of His Incarnation – A Talk by Amit Sharma

The Srijan Foundation organized a talk of Sri. Amit Sharma at New Delhi. The topic of the talk was ‘Life Journey of Adi Shankaracharya and the Time of His Incarnation”.

क्या भारत का हिन्दू रहना ज़रूरी है? : शंकर शरण जी का व्याख्यान

अगर भारत के 80% नागरिक मुसलमान हो जायें तो क्या भारत बचेगा? इसका सीधा जवाब यह है किअगर ऐसा होता है तो पाकिस्तान व भारत में कोई अंतरनहीं रह जाएगा. परंतु अपने आप को...

मोदी और मुसलमान । जैन मुनि की हिन्दुओ को चेतवानी सम्भल जाओ वरना

Source: – V Click YouTube Channel   वन्दे मातरम I जय माँ भारती I हिन्दू वादी मित्रों को मेरा ह्रदय से आशीर्वाद I चुनाव का मामला, माहोल सामने आने वाला हैं I लोक सभा का...

गुमराह करने वाले इतिहासकार

Courtesy: – K K Muhammad (Ex-Regional Director, ASI). अयोध्या के स्वामित्व के संबंध में 1990 में राष्ट्रीय स्तर पर बहस ने जोर पकड़ा। इसके पहले 1976- 77 में पुरातात्विक अध्ययन के दौरान अयोध्या उत्खनन में...

हिन्दू धर्मं को बचाने के लिए संविधान को बदलिए

एक और महत्त्वपूर्ण भारतीय परिस्थिति, मैं कहता हूँ, मैं एक स्वामी हूँ जो अहिंसा के प्रति प्रतिबद्ध हूँ I एक संयाशी कि प्रतिज्ञा होती हैं अहिंसा I वो केवल अहिंसा ही हैंI सर्वबुठेभ्याहाभायाम्दाथ्वा, मैं...

हिन्दू धर्म और राष्ट्रीयता – शंकर शरण द्वारा एक व्याख्यान

  समय बदल गया है, समय की मांग बदल गयी है,और जो नयी पीढ़ी आती है वह स्वयं सबकुछ तय नहीं करती; बहुत सी चीजे उसको बनी-बनायीं मिलती है | यह जो कैरियर ओरिएंटेडनेस...

स्वराज्य से साम्राज्य तक : मराठा साम्राज्य के द्वारा ‘हिन्दवी स्वराज्य’ का एकीकरण

वर्ष : १७२० – औरंगजेब से हुये २७ वर्ष लम्बे बहुत ही कठिन युद्ध को जीते कुछ समय बीत चुका है पर शिवाजी महाराज का देश को आतंक से मुक्त कराने का लक्ष्य अभी...

अंग्रेजी माध्यम का भ्रमजाल — संक्रान्त सानु द्वारा एक व्याख्यान

श्रीजान फाउंडेशन ने “अंग्रेजी माध्यम का भ्रमजाल” विषय पर संक्रान्त सानु द्वारा एक व्याख्यान आयोजन किया | नीचे दिया गया वार्ता का पूरा वीडियो |

वर्ण, वेद व आधुनिक समाज — मोहित भारद्वाज द्वारा एक व्याख्यान

क्या हम स्वतंत्र हैं या पाश्चात्य संस्कृति से प्रभावित विश्व में जकड़ें हुए हैं ? क्या हमनें पूर्वजों की शिक्षा, भाषा और नैतिक मूल्यों को भुला दिया हैं? हम अपनी जड़ों से भटक गए...